Wednesday, August 17, 2022
Home charging station Latest Updats 2022 | हाउसवाइफ भाभी ने सब्जीवाले के साथ बनाये शारीरिक...

Latest Updats 2022 | हाउसवाइफ भाभी ने सब्जीवाले के साथ बनाये शारीरिक संबंध  – NEws7todays


 

सब्जीवाले के साथ

मेरे घर में और मेरा नामर्द पति और मेरे दो बच्चे रहते हैं. मेरे पति की एक प्राइवेट जॉब हैं. वो मुझे कभी भी बिस्तर में खुश नहीं कर पाते हैं। सब्जीवाले के साथ

मेरे पति ऑफिस चले गए थे और मैं नहा कर कपड़े ही पहन रही थी कि एक सब्जी वाला बाहर मेरे घर के गेट पर आवाज़ दे रहा था की “मैडम सब्जी ले लो … हरी ताज़ी सब्जी है.”

मैंने साड़ी पहन कर बाहर जाकर देखा तो एक बड़ा जबरदस्त मर्द सब्जी बेच रहा था. इसे मैंने पहले कभी अपनी कॉलोनी में नहीं देखा था. नया ही सब्जी वाला था।

मैंने चारो तरफ देख कर उसको अपने पास बुलाया.
वो पास आया तो मैंने पूछा- भैया आपकी उसका क्या रेट है?

मेरी इस दो अर्थी बात सुनकर वो मुझे गौर से देखने लगा. फिर मैडम से सीधे वो भाभी पर आ गया और बोला- भाभी जी, आपके लिए तो सबकी रेट कम ही हैं.. आप तो बस बोलो आपको क्या चाहिए।
मैंने इठलाते हुए अपने चूचे हिलाए और बोला की – बड़े बड़े से वो दे दो.
उसने बोला- क्या दे दूँ बड़े बड़े से?
मैंने बोलै की आलू दे दो … दो किलो.

सब्जीवाले के साथ
सब्जीवाले के साथ

वो मेरी तरफ देखता हुआ बोला- कैसे लोगी भाभी जी?
मैंने मन में सोचा कि बोल दूँ कि जैसे तुम देना चाहो.
फिर मैंने बोला की – कैसे लोगी से … तुम्हारा क्या मतलब है भैया?
उसने बोला- मतलब ये की कुछ डलिया वगैरह में लोगी.. या मैं थैली में दे दूँ?
मैंने बोलै की – थैली में ही दे दो। सब्जीवाले के साथ

उसने फिरआलू तौल दिए, मैंने भी उससे आलू ले लिए. उससे आलू लेते टाइम मैं थोड़ा झुक गई, जिससे उसको मेरे गहरे गले वाले ब्लाउज में से मेरी मस्त चूचियों की भरपूर झलक दिख गई थी . मेरी नजरे उसकी लुंगी पर थी, उसकी लुंगी ने भी उठना शुरू कर दिया था।
फिर मैंने उसको ध्यान से देखा. वो एक 40 साल का हट्टा-कट्टा पहलवान टाइप का आदमी दिख रहा था।

उससे सब्जी लेकर मैं अपने घर के अन्दर जाने लगी, तो वो मुझसे बोला की – भाभी जी पैसे?
मैंने बोला की – भैया अभी अन्दर से लाकर देती हूँ.
उसने बोला- ठीक है.
मैं अन्दर जाने लगी, तभी मैंने मूड कर देखा, वो मेरे पिछवाड़े को बड़ी मस्त निगाहों से देख रहा था.
मैं भी मन ही मन मुस्कुरा दी।

जब मैं वापस आई, तो मैंने देखा कि उसकी कामुक नज़र मेरे गदराए हुए जिस्म पर टिकी हुई थीं और वो मेरे मम्मों को बड़ी ध्यान से देख रहा था। सब्जीवाले के साथ

मैंने उसको पैसे दे दिये और अन्दर जाने के लिए मुड़ी तो उसी टाइम पता नहीं कैसे मेरे पैर में मोच आ गई और मैं वहीं गिर गयी . मुझे गिरता देख कर वो सब्जी वाला मुझे उठाने लगा. मैंने उसको मना कर किया, लेकिन वो माना ही नहीं . वो मुझे उठा कर मेरे घर के अन्दर ले आया।

वो मुझे बेड के पास लाया और मुझे बड़े धीरे से बेड पर लिटा दिया. फिर वो मुझसे बोला- भाभी जी … मूव किधर रखी है, बता दीजिए … मुझे ,मैं आपके पैर में मूव लगा देता हूँ.
मैंने उससे कहा की – तुम रहने दो … तुम बाहर चले जाओ, तुम्हारा ठेला बाहर ही खड़ा है … मैं अपने आप मूव लगा लूँगी.
उसने कहा की – नहीं … आपको दर्द है … मैं आपको इस हालत में ऐसे छोड़ कर नहीं जा सकता … मेरे ठेले की चिंता आप मत करो।

Latest Updats 2022 | हाउसवाइफ भाभी ने सब्जीवाले के साथ बनाये शारीरिक संबंध 

 

सब्जीवाले के साथ
सब्जीवाले के साथ

मेरे कई बार मना करने के बाद भी वो खुद से सामने की टेबल पर रखी मूव उठा कर लाया और मेरी साड़ी को थोड़ा ऊपर करके मेरे पैर में मूव लगाने लगा। सब्जीवाले के साथ

उसके हाथों में बड़ी नफासत थी … मुझे थोड़ा अच्छा लगने लगा था. उसके हाथों से थोड़ी ही टाइम में मुझे आराम मिल गया और मैं पैर फैला कर लेट गई. वो अब और भी अच्छे से मेरे पैर की मालिश करने लगा था।

थोड़ी देर में मैंने फील किया कि वो साड़ी को थोड़ीऔर ऊपर कर रहा था. अब वो अपना हाथ मेरी जांघों तक ले जा रहा था तो मैं आंखें खोल कर उठ कर बैठ गई.

पहले तो मैंने सोचा कि ये मालिश से भी कुछ आगे बढ़ेगा शायद , तो फिर आज मुझे शान्ति मिल जाए. सब्जीवाले के साथ

मैं उसकी मर्दाना छाती देख कर मुझे बहुत अच्छा लगा और साथ ही मेरा दिमाग काम करने लगा कि कैसे भी करके इसे फंसाना ही पड़ेगा , मैं मन ही मन खुश हो रही थी कि अगर आज ये सैट हो गया तो इसके करने से मेरी आग शांत हो जाएगी जो आज तक मेरा पति नहीं कर पाए थे.

मैंने उससे बोला – ये क्या कर रहे हो तुम?
उसने बोला- भाभी जी … मैं मालिश कर रहा हूँ न।
मेने कहा की – मोच तो नीचे वाले हिस्से में आई थी, तो तुम ऊपर क्यों मालिश कर रहे हो?
उसने बोला- अरे मोच को मालिश करने के बाद ही पूरे पैर को अच्छे से मालिश करना पड़ता है … नहीं तो आपका दर्द नहीं जाएगा.
मेने कहा – तुम रहने दो … अब जाओ. मुझे लग रहा है कि तुम कुछ ज्यादा ही मुझे सहला रहे हो.
उसने बोला- नहीं भाभी जी, मैं आपकी मालिश कर रहा हूँ।

 

सब्जीवाले के साथ
सब्जीवाले के साथ

मैंने उसे बहुत उकसाया- कहीं तुम मुझे अकेली देख कर मेरे साथ कोई गलत काम तो नहीं कर दोगे ना।
ये कहते हुए मैंने उठने की बहुत कोशिश की और अपना पल्लू ढलक जाने दिया. मेरे गहरे गले के ब्लाउज से उसको मेरी अधनंगी चूचियां बहुत ज्यादा गर्म करने लगी थीं।

वो मेरी चूचियों की और देख कर बोला की – अगर आप मुझसे कुछ गलत काम करने के लिए बोलोगी , तो मैं जरूर कर दूंगा. वैसे आप अपनी गेंदें दिखा कर मुझे गर्म रही हो।

ये बोलते हुए उसने अपना एक हाथ मेरे सीने से लगा कर मुझे बिस्तर पर गिरा दिया. उसके साथ ही मेरी साड़ी भी खींच दी थी. लेकिन  मेरी साड़ी अब भी मेरे बदन से लिपटी हुई थी। फिर मैंने नाटक करना शुरू किया। सब्जीवाले के साथ

मेने कहा “ये क्या कर रहे हो तुम … यहां से चले जाओ तुम!”
उसने कहा की – एक तो तेरे लिए मेने इतनी मेहनत की और बिना कुछ दिए बोल रही हो कि यहां से जाओ.
मैं घबराते हुई बोली- ये तुम क्या बोल रहे हो … तुम्हारा दिमाग़ खराब है क्या?
उसने बोला की – हां तुझे देख कर मेरा दिमाग़ और हालत दोनों ही खराब हो गए हैं. अब तुझे पहले जी भर कर करने दे फिर ही मेरा दिमाग सही होगा।

नौटंकी करते हुए मैंने उसको भगाने की कोशिश की लेकिन मैं नाकामयाब रही.

वो मेरे साथ जबरदस्ती करने लगा. पहले तो उसने मेरी साड़ी पूरी तरह से खींच कर मेरे जिस्म से अलग कर दी. और फिर मैं उसके सामने रोने का नाटक कर रही थी- प्लीज़ मुझे छोड़ दो.

लेकिन उसकी आंखों में अलग ही चमक थी. उसने मुझे देख कर कहा – साली तुम पहले तो हममे मजबूर करती हो और जब करने की बारी आती है तो तुम नाटक करती हो आज तो में तुमको नहीं छोड़ूगा चाये कुछ भी क्यों न हो जाये।

फिर उसने मेरी साड़ी तो खींच ही दी थी. अब मैं उसके सामने ओनली ब्लाउज पेटीकोट में रह गई थी। सब्जीवाले के साथ

मैं उसके सामने छोड़ देने के लिए कहती रही, लेकिन उस पर कोई भी असर नहीं पड़ने वाला था. उसने एक झटके में मेरा साया भी फाड़ कर अलग कर दिया और अगले झपट्टे में मेरा ब्लाउज भी मेरी चुचियों का साथ छोड़ने लगा था . अब मैं उसके सामने ओनली ब्रा और पेंटी में थी और उसे रेगुलर मना कर रही थी।

सब्जीवाले के साथ
सब्जीवाले के साथ

फिर उसने अपने सरे कपड़े उतारे दिए मेने उसे बहुत रोका लेकिन वो नहीं माना और करता ही रहा थोड़ी दिर बाद मुझे भी अच्छा लगने लगा और में भी पुरे मजे लेने लगी और उसने बहुत ही मजे से और अच्छे किया कुछ ही देर में हम दोनों ही फ्री हो गए।

और ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा कुछ दिनों बाद वो अपने दोस्तों को भी लाने लगा और में भी पुरे पुरे मुझे लेने लगी।

कैम्प में मिले लड़के से प्यार भरे शारीरिक सम्बन्ध | Latest Updats 2022

आठ साल की दोस्ती के बाद भी अधूरा जिस्मानी सम्बन्ध | Latest Updats 2022



Source Link: https://news7todays.com/%E0%A4%B8%E0%A4%AC%E0%A5%8D%E0%A4%9C%E0%A5%80%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%B2%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A5-title-sep-sitename/

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular